Followers

Friday, June 3, 2016

नकलची यह पौध

                                                                

 हमारे परम विद्वान नीति नियंताओं की सोच और घोषणाओं का जवाब नहीं ! कुछ वर्ष पूर्व एक निर्णय लिया गया था कि आठवीं क्लास तक बच्चों को फेल नहीं किया जायेगा ! आज के समाचारों में बिहार के टॉपर्स के ज्ञान और उपलब्धियों के बारे में जान कर बहुत क्षोभ हो रहा है ! हमारे स्वर्णिम भारत के उज्जवल भविष्य का यह वर्तमान चेहरा है ! आज ही एक समाचार यह भी पढ़ा है कि आठवीं कक्षा की परीक्षा को बोर्ड की परीक्षा किये जाने पर विचार किया जा रहा है ! ज़रा सोचिये उस परीक्षा के परिणाम क्या होंगे और ऐसे टॉपर्स जब देश की बागडोर सम्हालेंगे तो देश किस दिशा में जायेगा !

नक़ल करें
 या बुद्धि का विकास 
घनी दुविधा

आये अव्वल 
दुनिया के सामने 
रहे जाहिल 

खोखला ज्ञान 
जीवन संघर्ष में 
आये न काम 

शर्मिन्दा होंगे 
हारेंगे चुनौतियाँ 
लज्जा की बात 

जैसे शासक 
वैसी ही होगी प्रजा 
सारे नकली 

होती रहती
सरे आम नक़ल 
कोई न रोके 

कौन कराये 
खरे की पहचान 
प्रजा हैरान 

सोने का पंछी 
भारत बन गया 
काठ का पंछी 

बट्टा लगाते 
शिक्षक की शान में 
ऐसे विद्यार्थी 

जैसा बोयेंगे 
नक़ल करवा के 
वैसा काटेंगे 

सही ज्ञान क्या 
नकलची ये पौध 
जानेगी कैसे 

सत्य से दूर 
प्रलोभन के मारे 
अज्ञानी सारे 


साधना वैद